Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
आज के दौर में सेल्फी लेना दिन-प्रतिदिन ट्रेंड बनता जा रहा है। और गौर करें तो लोग नए-नए स्टाइल भी इजात कर रहे है। मगर इन सब के बीच कुछ बातें है जो आपको जरुर सोचने पे मजबूर कर देंगी कि क्या ये ट्रेंड सही है या गलत? सेल्फी बहुत से लोगो कि मौत का कारण बना है और भारत इस सुची में सबसे आगे है। आज हर इंसान अपनी खुशियाँ जाहिर करने क लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल करता है।
सेल्फी शब्द तब इजाद हुआ जब ऑस्ट्रेलिया में ‘नाथन होप’ ने एक फोटो डाली जिसमे उन्होंने सेल्फी शब्द का इस्तेमाल किया। आज हर इंसान कहीं भी जाता है, तो एक सेल्फी अपने दोस्तों या परिवार के साथ लेने में परहेज नहीं करता, और कहीं न कहीं इसका मुख्य कारण फेसबुक जैसी सोशल मीडिया टूल्स है जहाँ लोग अपनी खुशियाँ जाहिर करते है। ये वही दौर है जहाँ इन्टरनेट कि दुनिया से हर इंसान रूबरू है। Oxford Dictionary के मुताबिक सेल्फी शब्द को 2013 word of the year बताया गया। अब वो समय आ चूका है जहाँ हर वर्ग क लोग सेल्फी लेने से थोड़ा भी परहेज़ नहीं करते।
ख़ैर इन सब क बीच हम ने उन देशों के बारे में बताया है जहाँ सबसे ज्यादा मौत सेल्फी कि वजह से हुई है, “Me, Myself and My Killfie: Characterizing and Preventing Selfie Deaths" के एक शोध के मुताबिक।
पिछले 20 सालों में 127 लोगो कि मौत सेल्फी के कारण हुई है और इसका मुख्य कारण बिल्डिंग और पहाड़ों से गिरना बताया गया है।
आपको बता दें कि आमतौर पर ऐसी घटनाये ट्रेन के ट्रैक, समुन्द्र किनारे और पहाड़ों पर सेल्फी लेने से हुई है। अब वो समय आ गया है, जब आपको समझना होगा कि सेल्फी लेना आम बात तो है, पर साथ साथ कुछ चीजों का ख्याल रखना भी उतना ही जरुरी है।
भारत में बढ़ते केसेस को देखते हुए सरकार ने ‘नो सेल्फी जोंस’ भी बनाये है जिससे कि ऐसी घटनाओ में गिरावट आए और लोगो के बीच जागरूकता फैले कि ज़िन्दगी एक तस्वीर में बंध के नहीं रह सकती। लम्हों को जीने के लिए तस्वीरों कि नहीं यादों कि जरुरत होती है।
इससे जितना हो सके अपने दोस्तों के साथ शेयर करें जिससे कि लोग ऐसी जगहों पर सेल्फी लेने से कतराए जहाँ जान का खतरा है।
Designed By - Vikas Kakkar
YOUR REACTION
  • 1
  • 3
  • 6
  • 21
  • 2
  • 16

Add you Response

  • Please add your comment.